Wednesday, 29 November 2017

आयकर विभाग ने पीएसीएल से माँगा अरबों का कर

कंपनी की पहले से ही लगभग साढ़े पांच करोड़ निवेशकों को 57000 के बजह से दबी है ऐसे में विभाग द्वारा यह मांग और भारी पड़ेगा। पहले भी यह कंपनी कई कारणों से नियामक भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के राडार पे रह चुकी है। इससे पहले पीएसीएल आरोप लग चूका है की यह कंपनी देश भर में जमीनों की खरीद-फरोख्त करे वाली सम्बन्धी रियल के लिए एक निवेश योजना चला रही है। और इसके तहत इस कंपनी ने काफी है तक जमीन का हिस्सा एकत्रित किआ जिसका अधिकतर हिस्सा बंजर जरिशी भूमि है। सेबी ने 15 वर्षों की लड़ाई की लम्बी लड़ाई के बाद कंपनी को 49100 रूपए लौटाने का निदेश दिया है।



No comments:

Post a Comment