Wednesday, 29 November 2017

डिफॉल्टर्स की संपत्ति बेचने में बैंकों की मदद को तैयार एचडीएफसी रियल्टी

 रियल एस्टेट एडवाइजरी कंपनी एचडीएफसी रियल्टी डिफॉल्टर्स की संपत्ति बेचने और कर्ज वसूली में बैंकों की मदद करने पर विचार कर रही है। कंपनी को पहले से सहारा और पीएसीएल मामले में सेबी की ओर से संपत्ति बेचने का अनुभव है। कंपनी यह अनुभव अन्य बैंकों के साथ साझा करना चाहती है।

एचडीएफसी रियल्टी के ऑपरेशन हेड विक्रम गोयल का कहना है कि बैंकों के पास कुछ दबाव वाली संपत्ति है और वे कर्जदारों से बकाए की वसूली नहीं कर पा रहे हैं। जिन कर्ज के मामलों में संपत्ति गिरवी रखी हुई है उन्हें कंपनी या व्यक्ति ले सकते हैं।
विक्रम गोयल ने यह भी कहा कि वे ऐसे अवसरों की तलाश कर रहे हैं जहां पर बैंकों को प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराया जा सके, ताकि वे बाजार में इस तरह की संपत्ति को बेंचकर अपने अपने कर्ज की वसूली कर सके।
सेबी (पूंजी बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड) ने सहार और पीएसीएल की संपत्ति की ई-ऑक्शन के लिए एचडीएफसी रियल्टी और एसबीआई कैपिटल मार्केट को नियुक्त किया था। इन कंपनियों ने कर्ज के रीपेमेंट में डिफॉल्ट किया था।

No comments:

Post a Comment