Monday, 26 February 2018

Good News पीएसीएल रिफंड प्रक्रिया में आएगी तेजी 2018 | PACL Refund Latest News In Hindi | PACL Refund Status 2018

Welcome To PACL Refund Status 2018

सोमवार को पीएसीएल निवेशकों के एक समूह ने बाजार नियामक सेबी के अध्यक्ष अजय त्यागी से मुलाकात की और रिफंड प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए अनुरोध किया।
पीएसीएल, जिसने कृषि और रियल एस्टेट कारोबार के नाम पर जनता से पैसे जुटाए थे, सेबी ने 18 साल की अवधि में अवैध सामूहिक निवेश योजनाओं (सीआईएस) के माध्यम से 60,000 करोड़ रुपये से अधिक जमा कराया था।
एक बयान में, बाजार के नियामक ने कहा कि जनलाक प्रतिष्ठान के बैनर के तहत पीएसीएल के निवेशकों के समूह ने आज यहां त्यागी और अन्य सेबी के अधिकारियों से मुलाकात की।
 SUBSCRIBE Channel.

"निवेशकों के समूह ने अनुरोध किया कि रिफंड की प्रक्रिया तेज हो जाए," सेबी ने कहा।
इसके अलावा
समूह (आरपीटी) समूह को पीएसीएल से संबंधित विकास और सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त आर एम लोढ़ा समिति द्वारा शुरू की गई रिफंड प्रक्रिया की जानकारी मिली, जो पीएसीएल परिसंपत्तियों के निपटान की देखरेख कर रही है ताकि प्रभावित निवेशकों को चुकाना हो। समिति ने सर्वोच्च न्यायालय के समक्ष दो स्थितियों की रिपोर्ट पेश की है, जो पैनल द्वारा प्रदान किए गए जनादेश को आगे बढ़ाने में किए गए काम को विस्तृत करते हुए नियामक ने निवेशकों के समूह को सूचित किया।

इसने पीएसीएल के निवेशकों को रिफंड की प्रक्रिया शुरू की है, जिसकी पीएसीएल के साथ बकाया राशि 2,500 रुपये है, नियामक ने कहा रिफंड आवेदन जमा करने पर अधिक स्पष्टता के लिए, हिंदी और अंग्रेजी में दो डेमो वीडियो उपलब्ध कराए गए हैं, जो एसएमएस या वेब पोर्टल के जरिये रिफंड के लिए आवेदन करने के लिए निवेशकों को कदम से सहायता प्रदान करते हैं, सेबी ने निवेशकों के समूह को बताया।
इसके अलावा, चार सामान्य चरणों में रिफंड आवेदन प्रक्रिया के सारांश के साथ अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्नों की एक सूची सेबी की वेबसाइट पर निवेशकों को उनके दावे के आवेदन पत्र दाखिल करने में सहायता करने के लिए प्रदान किया गया है।

01. निचे वीडियो को देखे और शेयर करे तकि आप पैसा मिल जाए।
02. लेटेस्ट न्यूज़ के लिए चैनल को सब्सक्राइब कर लो।



Copyright © 1999 - 2018 Pacl Refund Status, All Rights Reserved. http://www.paclrefundstatus.com

No comments:

Post a Comment