Saturday, 13 April 2019

Pacl Latest News 2019 In English Today

Pacl Latest News 2019 In English Today


pacl latest news 2018 in Hindi today

pacl latest news today

pacl latest news in Hindi 2018

p a c l news in Hindi 2018


Friends are still all our senior partners on whom pacl partners along with all the pacl partners believe that this will do something to get our money, all our partners are looking at them and they are not able to make any decision What to do

Pacl Latest News 2019 In English Today

Now on the Youtube channel Zero Pariwar, Gujarat's Mukesh Kapooria heard the Video which said that on December 21 and 22, 2014, how many of our huge amount of money was ransacked in the last two days, amounting to Rs 8000 crore and friends showing Rs 8
or 10 crore In 2014 the government of India along with the pacl, a large number of companies were given a chit fund and all their assets which were closed by SEBI were seized so far along with Kapooria ji, Many of the colleagues have gathered so many evidence till now on December 21 and 22. Now, directly, the Government of India will ask that when the SEBI seized all the property of the company by shutting down the pacl company, then where is the deposit of these two days? is


Friends, all of you are sure to take an account of one rupee but for that, we also have to prepare ourselves. Friends, first of all, we have to choose a leader to fight this battle of pacl, under which the pacl battle will be fought. Friends, we have to write all this because the Lok Sabha elections will be completed in May and in June we have to start fighting pacl. Friends, we want to say one more thing to all of you. So far, any organization, including the AISO Janlok Pratishthan Insaf's Arab, did not get the money of the pacl investors, including the interest of SEBI, even at the same time, Wife of giving money to

Friends, before this movement, we say to these organizations that till now all of you have failed and if you still want to do something, then do not forget even after this, if the pacl investors do not get the money then all of you Join us and join us in the way we wrote in that we now have to select a leader in the whole country, for this, all partners should first give the leaders of these organizations first, if it can not do anything then at the end, Let the friends also have the opportunity to start a battle of pacl, keeping all your thoughts in it, starting this competition, which will be the last battle of pacl this time
Friends, put these messages in all groups

Read In HINDI


दोस्तो अभी भी हमारी सभी सीनियर साथी जिन पर pacl निवेशकों के साथ साथ pacl के तमाम साथी भरोसा करते हैं कि यही हमारे पैसे को दिलाने के लिए कुछ न कुछ करेंगे हमारे सभी साथी इनकी ओर देख रहे हैं और यह कोई फैसला नहीं कर पा रहे कि क्या किया जाय।

अभी यूट्यूब चैनल जीरो परिबार पर गुजरात के मुकेश कपूरिया का वीडीओ सुना जिसमें बताया गया कि 21 और 22 दिसम्बर 2014 को हमारी कितनी बड़ी रकम की हेराफेरी की गई इन दो दिनों में 8000 करोड़ की रकम जमा हुई और 8 या 10 करोड़ रु दिखाए गए दोस्तो 2014 में भारत सरकार नें pacl के साथ साथ बड़ी संख्या में कम्पनियों को चिटफंड बता कर सेबी के द्वारा बन्द कर दी गयी उनकी सारी सम्पत्ति जप्त कर ली गयी अब तक कपूरिया जी के साथ साथ हमारे कई साथियों के पास भी अब तक 21 और 22 दिसम्बर तक के बहुत से साक्ष्य एकत्र हो गए होंगे अब तो सीधे भारत सरकार से पूंछेंगे कि जब सेबी नें pacl कम्पनी को बंद करके कम्पनी की सारी सम्पत्ति जप्त करी तो इन दो दिनों का जमा पैसा कहां है


दोस्तो आप सभी निश्चिन्त रहे एक एक रु का हिसाब ले लेंगे लेकिन उसके लिए हमें भी अब अपने आपको तैयार करना पड़ेगा। दोस्तो सबसे पहले हमें pacl की इस लड़ाई को लड़ने के लिए एक लीडर का चयन करना पड़ेगा जिसके नेतृत्व में pacl की इस लड़ाई को लड़ा जाए। दोस्तो यह सब हमें इसलिए लिखना पड़ रहा है क्योंकि मई में लोकसभा के चुनाब पूरे हो जाएंगे और जून में pacl की लड़ाई शुरू करनी है। दोस्तो हम एक बात आप सभी से और कहना चाहिते हैं अभी तक AISO जनलोक प्रतिष्ठान इंसाफ की अबाज सहित कोई भी संगठन pacl निवेशकों का पैसा व्याज सहित नहीं दिलबा पाया इस समय भी सेबी जिस तरह से पैसा देने का बायदा कर रही है बह भी बगैर व्याज के पैसा देने का बायदा कर रही है।

दोस्तो हम इस आंदोलन से पहले अपने इन संगठनों से फिर कहते हैं कि अब तक आप सभी फेल होते आये हो और अगर अब भी कुछ करना चाहिते हो तो  बह भी कर लो उसके बाद भी अगर pacl निवेशकों का पैसा नहीं दिलबा पाए तब आप सभी एक जुट होकर हमारे साथ आएं और जिस तरह से इसमें हमनें लिखा कि अब पूरे देश में एक लीडर का चयन करो इसके लिए सभी साथी पहले इन संगठनों के लीडरों को मौका दें अगर यह कुछ भी नहीं कर पाएं तब सबसे अंत में हमें मौका दें दोस्तो यह भी एक स्पर्धा है pacl की लड़ाई शुरू करने की इसमें  सभी अपने अपने विचारों को रख कर इस स्पर्धा को शुरू करें जिससे इस बार pacl की आखरी लड़ाई शुरू हो
दोस्तो इन सन्देशों को सभी ग्रुपों में डालो

3 comments:

  1. सर जो बोंड पी ए सी एल
    के ऑफिस मे जमा कर दिया
    है उस का आवेदन केसे
    करना है प्लीज़ बताये

    ReplyDelete